विश्व क्रिकेट का इतिहास – History of World Cricket in Hindi: Cricket भारत मे एक बहुत ही प्रसिद्ध खेल है और इसे भारत मे सबसे जादा देखा एवं खेला जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं की इस खेल की शुरूवात कब कहाँ और कैसे हुई?. आज इस Post मे हम जानेंगे की Cricket का invention किस प्रकार हुआ और कैसे यह गेम चंद सालों मे दुनिया भर मे प्रसिद्ध हो गया। Football यानि Soccer के बाद Cricket दूसरा ऐसा game है जिसे दुनिया देखती एवं खेलती है। 

विश्व क्रिकेट का इतिहास - History of World Cricket in Hindi

History of World Cricket in Hindi Cricket की शुरुवात किसने की इसका इतिहास मे कोई ठोस सबूत तो नहीं है लेकिन ऐसा कहा जाता है की इस खेल की शुरुवात सबसे पहले Roman Empire के खत्म होते समय मे हुई। वहीं दूसरी ओर लोग यह भी मानते हैं की cricket की शुरुवात 16th Century मे England मे हुई। यह 18th Century मे England का National खेल बना और 19th 20th Century तक पूरे विश्व भर मे प्रसिद्ध हो गया।

Cricket खेल England के बाहर कैसे पहुंचा?

Contents

इससे पहले की Cricket खेल खुद England मे पूरी तरह से प्रसिद्ध होता उससे पहले ही यह खेल North America पहुँच गया। 18th Century के खतम होते होते यह खेल दुनिया के अलग अलग हिस्सों तक भी पहुँच गया।  भारत मे इस खेल को East India Company के Mariners ने खेला और दूसरे कोनों तक पहुंचाया। यह खेल Australia मे Colonizationशुरू होते ही 1788 मे खेला जाने लगा। .New Zealand और South Africa मे यह खेल 19th Century मे पहुंचा।

British राज ने अपने उपनिवेशवाद को Canada मे प्रसिद्ध करने के Cricket को वहाँ फैलाने की काफी कोशिश करी लेकिन उन्हे इसमे कभी सफलता नहीं मिली। 1860 से 1960 जहां Britishers चाहते थे की ये खेल Canada मे प्रसिद्ध हो वहीं उसकी लोकप्रियता पूरे देश मे कम होते जा रही थी। Canada के Rich लोगों ने अपनी Class को बकियों से अलग रखने के लिए इस खेल को अपनाया और शायद इसी कारण यह खेल कभी उनके आम देश नागरिकों के बीच मे प्रसिध् नहीं हो सका।

Cricket खेल के नियम कब और किसने बनाए?

खेल से संबन्धित जो elements हैं जैसे की Bat, Ball, Wicket आदि इन सब का चुनाव अतिप्राचीन काल मे हुआ था जिसका समय बताना किसी के लिए भी नामुमकिन है। 1728 मे  Duke of Richmond और Alan Brodick कुछ Agreement बनाए जिसमे खेल से संबन्धित कुछ नियम बनाए गए। इस खेल को जीतने वाले को कितने और कैसे पैसे मिलेंगे जैसी जानकारी भी वहाँ उतरी गयी।

1744 मे पहली बार Cricket से संबंधित कुछ नियम बनाए गए और uनका पालन भी 1744 से ही शुरू हो गया। इस समय मे नियम जैसे की Leg Before Wicket (LBW), Wicket की चौड़ाई और Bat की चौड़ाई सामने आए।  एक नियम यह आया की इस खेल को Gentelmen खेल बनाने के लिए और यह सुनिश्चित करने के लिए की खेल को बिना किसी cheating के खेला जाए, इसके लिए 2 Umpires खेल से जोड़े गए। इनका काम था यह देखना की खेल पूरे नियमों के साथ खेला जा रहा है या नहीं और अगर दोनों Team के बीच कोई बहस होती है तो उसे भी सुझाना.

यह सारे Codes एक “Star and Garter Club” के Members द्वारा लाये गए और इन सभी members ने 1787 मे CC का गठन किया। MCC का full form है Marylebone Cricket Club और समय यह एक Body बनी जो cricket से संबन्धित नियमों को देखती थी और ज़रूरत पड़ने पर उसमे बदलाव करती थी।

International Cricket की शुरुवात कैसे हुई?

दुनिया का पहला International Cricket Match 1844 मे US और Canada के बीच खेला गया. यह match New York के St George’s Cricket Club के मैदान मे खेला गया। इसके बाद 1859 England की team पहली बार North America के खेल दौरे पर गयी। उसके बाद 1862 मे England की team ने Australia का दौरा किया। Australia ने भी 1868 मे England का दौरा किया और अपना पहला Overseas यानि पनि धरती से दूर अपना पहला मैच खेला।

1877 मे  England ने Australia का दौरा किया और  Australian XIs के खिलाफ दो Match खेले जिन मैचों को अब Inaugural Test matches कहा

जाता है। जब Australia ने एक बार फिर England का दौरा किया तो इसकी सफलता देख लोगों को लगा की इन दोनों देश के बीच मे अक्सर ऐसे matches होते रहने चाहिए। अभी तक कोई भी Test Match नहीं खेला गया था और 1878 मे पहली बार एक Test Match खेला गया England और Australia के बीच मे और उसके बाद से The  Ashes का जन्म हुआ जो आज भी एक बहुत ही प्रसिद्ध Eng Vs Aus league है।

Cricket Me एक Over मे कितनी Ball फेंकी जाएगी?

आपको जान कर हैरानी होगी की पहले के cricket मे एक Over मे बस 4 balls फेंकी जाती थी। इसके बाद से बादल आर 5 ball कर दिया गया और आज के समय मे इसे 6 ball कर दिया गया है। सन्न 1990 मे यह फैसला किया गया की एक Over मे 6 Balls फेंकी जाएगी। कई देशों ने यह भी कोशिश करी की एक match मे 8 ball करी जाये जैसे की Australia ने 1922 मे एक ओवर मे 8 balls का चलन शुरू करने की कोशिश करी।

भारतीय क्रिकेट का इतिहास History of Indian cricket in Hindi

इसके बाद 1924 मे New Zealand और 1937 मे South Africa ने भी 8 balls पर over पर Experiment किया। 1940 के आस पास Internation Cricket Matches को World War के कारण स्तघित कर दिया गया और जब War खतम होने के बाद दोबारा Cricket की शुरुवात हुई तो 1 Over मे दोबारा से 6 balls फेंके जाने लगे। हालांकि अभी भी Conditions के हिसाब से यह नियम था की 6 या 8 balls वाले Over को चुना जा सकता है लेकिन 2000 मे एक नियम आया की 1 over मे मात्र 6 ball ही फेंकी जाएगी, न कम न जादा।

21वीं सदी मे खेला जाने वाला Cricket

जून 2001 मे ICC यानि की Internet Cricket Council ने “Test Championship Table” का दुनिया से परिचय करवाया और 2002 मे “One Day Championship Table” का। देखते देखते बहुत सी Countries ICC से जुड़ चुकी थीं और अब ICC ने International Matches organize करवाना शुरू कर दिया था। नियमों की देखभाल करना ICC की ज़िम्मेदारी बन चुकी थी और साथ ही मे समय समय पर Championships और Tournaments Organize करवाना भी ICC की ज़िम्मेदारी हो चुकी थी। 2017 मे अफगानिस्तान और Ireland भी ICC के member बन गए और अब 12 Countries ICC की member हैं।

आज भी कई African, Asian और American देश Cricket से नहीं जुड़े हैं। ICC की कोशिश है की वे आने वाले समय मे इन देशों को ही Cricket के पास ला सकें। टी20 Cricket मे अभी जल्द ही आया है। टी20 पूरे विश्वभर मे बहुत सफल रहा है और लोगों इसे काफी पसंद कर रहे हैं। पहली बार ICC टी20 2007 मे हुआ था। भारत मे Indian Premier League (IPL) ने इस टी20 को भारत मे और प्रसिद्ध बना दिया.

Leave a Reply