जिन्दगी में कभी ना हो हताश: जिन्दगी में कभी ना हो हताश….ये बस कहने की बात नहीं है। असल में हमें कभी भी अपने जिंदगी से हताश नहीं होना चाहिए। चाहे जिंदगी कितना भी बुरा वक्त क्यूं न दिखाए।

कहते हैं..हर रात के बाद दिन होती है, ठीक उसी प्रकार हर बुरे वक्त के बाद अच्छा वक्त आता है। अच्छे वक्त का सही मजा वही व्यक्ति ले सकता है जिसने बुरा वक्त देखा हो। इसलिए हमें कोशिश करनी चाहिए कि चाहे कितनी भी परिस्थिति खराब हो, अपना संयम ना खोए। जिंदगी से हताश तो कभी ना होए।

हताशा दूर करने के लिए अपना सकते हैं ये 20 तरीकेहताशा दूर करने के लिए अपना सकते हैं ये 20 तरीके

हर कोई कभी न कभी जिंदगी से हो जाता है निराश

जिंदगी बुरा वक्त हर किसी को दिखाती है। कुछ व्यक्ति अपने बुरे वक्त में संयम खोकर अपना सारा जीवन बर्बाद कर देते हैं तो कुछ अपने बुरे वक्त का इस्तेमाल खुद को तराशने में करते हैं। संदीप महेश्वरी आज के युवाओं के बीच मोटिवेशनल गुरू के रूप में काफी फेमस हैं।

वे अपने छोटे-छोटे वीडियो के जरीए परेशान युवाओं को रास्ता दिखाने की कोशिश करते हैं। जिंदंगी में हताशा को लेकर उनका कहना है कि जिंदगी एक बार ही मिली है और इस एक बार में ही आपको अपने सपनों को पूरा करना है। इसलिए बिना हताश हुए अपने काम को करते जाओ रास्ते बनते जाएंगे।

एक रास्ता बंद होता है तो दूसरा खुल जाता है

जिंदगी में हताश होने का असल कारण व्यक्ति का ये सोचना कि सारे रास्ते बंद हो गए हैं। अब कोई रास्ता नहीं बचा। छात्र के संदर्भ में देखें तो अगर छात्र अपनी परीक्षा में असफल हो जाता है तो उसे लगता है कि बस अब मौत के अलावा और कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा।

लेकिन सच्चाई इससे बिल्कुल अलग होती है। ऐसा तो है नहीं अगले साल परीक्षा नहीं होगी और अगले साल आप परीक्षा नहीं दे सकते। हां, ये जरूर है थोड़ी शर्म जरूर लगेगी। लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि छात्र अपनी जान दे। छात्र दोगुनी मेहनत के साथ फिर से परीक्षा की तैयारी करे तो वो दूबारा असफल हो ही नहीं सकता।

आम लोगों के जिंदगी में भी ऐसे कई समय आते हैं, जब उन्हें लगता है कि अब कोई रास्ता नहीं बचा है। यही सोचना उनके हताशा और निराशा का कारण बना जाता है। उनमें वो शक्ति नहीं बचती जिससे वो दूबारा अपने काम को फिर से करें। लेकिन उस हताशा को दूर करने के लिए अपने अंदर शक्ति खुद जगानी होगी।

जीवन की हताशा दूर करने के लिए इच्छाशक्ति है बहुत जरूरी

जिंदगी की हताशा को दूर करने की सबसे बड़ी चीज है वो है इच्छा शक्ति। अगर आप एक तीव्र और द्रीढ इच्छा शक्ति वाले हैं, तो आप विश्वास कीजिए आपके जीवन में हताशा कभी नहीं आ सकती। अपने काम में असफल होने के बाद आप हताश नहीं बल्कि यह सोचेंगे कि आप कैसे असफल हो गए। इसके बाद आप वजह पता लगा कर दोगुनी शक्ति के साथ फिर से वो काम करेंगे। जीवन में हताशा वैसे लोगों को ही होती है जो अंदर से कमजोर होते हैं, जिनमें ईच्छाशक्ति की कमी होती है।

अच्छे दोस्त होते हैं काफी खास

जीवन में रिश्तेदार भले ही भगवान चुनते हो लेकिन दोस्त हर व्यक्ति खुद चुनता है। इसलिए तो दोस्ती का रिश्ता काफी खास होता है। दोस्त वैसे होते हैं जो आपके साथ हर हाल में खड़े होते हैं। चाहे आपकी परिस्थिति कैसी भी क्यूं ना हो। जिंदगी से हताशा निकालने में भी दोस्त ही काम आते हैं।

इसलिए जब भी कभी आपके जीवन में हताश आए तो आपको अपने विश्वासी और प्यारे दोस्तों की मदद जरूर लेनी चाहिए। ऐसे दोस्त आपको आपके आत्मशक्ति बढ़ाने में मदद करते हैं। ये ऐसे लोग होते हैं जिन्हें आपकी कमीयों से लेकर आपके शक्ति सबका पता होता है। इसलिए ये आपके हताशा भरे जिंदगी को दूर करने का हरसंभव कोशिश करते हैं।

हताशा को ना बनने दें तकदीर

कुछ लोग जीवन से इस कदर हताश हो जाते हैं कि उन्हें लगता है अब उनकी जिंदगी में कुछ नहीं बचा। वो अपने बुरे वक्त को अपनी तकदीर मान कर कोशिश छोड़ देते है। जिससे वे घुट-घुट कर जीना शुरू कर देते हैं। ये बिल्कुल भी सही रास्ता नहीं होता। ईश्वर ने मनुष्य रुप में जन्म आपको सिर्फ इसलिए दिया है कि आप अपने काम से अपना जीवन बनाए ना कि हताश होकर नर्क रुपी जीवन बनाए।

हताशा से सिर्फ आप स्वंय निकल सकते हैं

हताशा से निकलने का मार्ग सिर्फ और सिर्फ आपके पास ही होता है किसी तांत्रिक या पंडित के पास नहीं। इसलिए अगर आप अपने जीवन के हताशा से बाहर निकलने की इच्छा रखते हैं तो कोशिश भी आपको स्वंय करनी होगी। इसमें आपके दोस्त, आपके परिवार वाले.

आपको प्यार करने वाले लोग आपकी मदद जरूर करेंगे। जब भी कभी आप खुद को हताश महसुस करें तो कुछ मोटिवेशनल वीडियो देखें, मोटिवेशनल स्पीचेड पढें, बड़े-बड़े लोगों की जीवनी पढ़ें। इन सब से आप अपने स्थिति को उनसे रिलेट करेंगे। जिससे आपको अपने समस्या का सामाधान प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

हमेशा खुश रहने की कोशिश करें

जिंदगी का असल मजा सिर्फ वही ले पाता है जो हर समय खुश रहता है। जिंदगी चाहे कैसी भी हो या चाहे कितना भी बुरा वक्त क्यूं न दिखाए मुस्कुराता हुआ आपका चेहरा इसे जरूर अच्छे दिन में बदल देगा। इसलिए कोशिश करें जितना हो सके हंसी को अपने जिंदगीं से कभी भी ना जाने दें.

Read More:- कामयाब इन्सान कैसे बने, जीवन में सफलता पाने के 10 तरीके

खुशी एक ऐसा दवा होता है जो किसी लाईलाज बिमारी को भी ठीक कर सकती है वो भी बड़े आराम से। इसलिए अपनी जिंदगी से हताशा दूर करने  का सबसे आसान तरीका है कि आप खुश रहने की कोशिश करें। जब आप ये कोशिश करेंगे तो आपको अपने आप अपनी परेशानी का काऱण और उसके निवारण का रास्ता साफ दिखाई देऩे लगेगा।

नमस्कार,आप सभी के सहयोग से हमारा यह blog, हिन्दी भाषा Me History Se सम्बंधित जानकारी उपलब्ध करवाने वाला एक popular website बनते जा रहा है. इसी तरह अपना सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here