Yusuf Pathan Biography in hindi: भारत के सबसे लोकप्रिय क्रिकेटरो में से एक, युसूफ पठान अपने आक्रामक और विस्फोटक बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते हे। T-20 world cup  के फाइनल में छक्का लगाकर अपने करियर की शुरुवात करने वाले युसूफ ने आगे चलके अपने शक्तिशाली स्ट्रोक्स से भारत के लिए बहुत सारे मैचेस जितवाए।  बरोदा के इस खिलाडी ने IPL में भी बोहोत सालो तक अपना दबदबा कायम रखा।

Yusuf Pathan के छोटे भाई इरफ़ान पठान भी एक अंतरराष्ट्रीय  क्रिकेटर हैं और उनका नाम भारत के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में लिया जाता हैं।  इस प्रतिभाशाली खिलाडी के जीवन की कथा भी उनके बल्लेबाजी की तरह रोमांच से भरी हैं। बोहोत सरे चढ़ाव औरो उतारोसे भरी इनकी ज़िंदगी की पूरी कहानी पढीये इस पेज पर।यूसुफ पठान की जीवनी इन हिंदी | Yusuf Pathan Biography in hindi

Yusuf Pathan (Cricketer) Height, Weight, Age, Wife Biography in hindi

Yusuf Pathan Biography in hindi यूसुफ पठान जीवनी
Real NameYusuf Khan Pathan
NicknameLethal Weapon, Steeler, Run Machine, The Beast Role
ProfessionIndian Cricketer (Batsman)
Age35 YEars
Date of Birth17 November 1982
BirthplaceBaroda, Gujarat, India
NationalityIndian
Star Sign/ Zodiac SignScorpio
CasteNot Known
HometownBaroda, Gujarat, India
International Cricket DebutTest- 10 June 2008 vs Pakistan in Dhaka
ODI- 24 September 2007 vs Pakistan in Johannesburg
T20- N/A
Height, Weight & Body Measurements
Height in Centimeters185 cm
Height in meters1.85 m
Height in Inches6’ 1”
Weight in Kilograms88 kg
Weight in Pounds194 lbs
Body Measurements42-34-14 Inches
Chest Size42 Inches
Waist Size\34 Inches
Biceps Size,14 Inches
Shoe Size.10 Inches
Eye ColorDark Brown
Hair ColorBlack
Family and Relatives
FatherMehmood Khan Pathan
MotherSamimbanu Pathan
BrotherIrfan Pathan (Cricketer, Step-brother)
SisterShagufta Pathan (Younger)
ReligionIslam
Affairs, Girlfriends and Marital Status
Marital StatusMarried
GirlfriendsN/A
Wife/ SpouseAfreen Pathan (Physiotherapist)
SonAyaan
DaughterN/A
Education and School, College
Educational QualificationNot Available
SchoolMES High School, Baroda

 

यूसुफ पठान की जीवनी इन हिंदी | Yusuf Pathan Biography in hindi

Yusuf Pathan की जन्म भूमि और उनके परिवार की जानकारी

Yusuf Pathan का जन्म 17 अक्टूबर 1982 को हुआ था।  युसूफ का जन्म गुजरात के बड़ौदा शहर में हुआ था।  उनके पिता बरोदा के एक मस्जिद में मुआजिन थे।   Yusuf Pathan के पिता बड़े धार्मिक और श्रद्धालु थे और उन्होंने यही शिक्षा अपने दोनों बेटे युसूफ और इरफ़ान को दी।  युसूफ ने अपने पिताजी का आदर जरूर किया पर उनकी रूचि क्रिकेट में थी।  इरफ़ान के साथ वो अक्सर अपने घर में क्रिकेट खेलते थे।

Yusuf Pathan के माता पिता की इच्छा थी की उनके दोनों लड़के इस्लामिक पंडित बने पर दोनोही लड़कोने क्रिकेट पर  पूरा ध्यान केंद्रित किया।  शुरुवात में घरवालोंसे युसूफ को ज्यादा सहयोग नहीं मिला लेकिन युसूफ की खेल के प्रति निष्ठा और लगन देख कर, उनके पिताजी ने युसूफ के क्रिकटर बनने के सपने को मान्यता दी उनकी माताजी समिमबाणु पठान ने भी उनका खूब साथ दिया। युसूफ को एक बेहेन भी है जिनका नाम शगुफ्ता पठान हैं।  

Yusuf Pathan के घर की परिस्तिथि इतनी अछि नहीं थी और उनका बचपन गरीबी में कटा। सख्त आर्थिक स्थिति के कारन युसूफ को क्रिकेट के उपकरणों को खरीदने में तकलीफ होती थी।  पर इतने कठिन परिस्तिथियों के बाद भी युसूफ ने क्रिकेट से अपना ध्यान कम नहीं किया और उनके इस कड़ी मेहनत का फल उन्हें मिला जब वो बरोदा के अंडर-16 टीम में चुने गए।

Yusuf Pathan की क्रिकेट करियर

U-16 के चुनाव के बाद उन्होंने पीछे मुड़कर कभी नहीं देखा। अंडर-16 के बाद युसूफ का चुनाव बरोदा के Under-19 टीम में भी हुआ  और युसूफ ने पश्चिम विभाग के अंडर-19म का प्रतिनिधित्व भी किया। अच्छे प्रदर्शन के चलते युसूफ ने साल 2001/02 में बरोदा के रणजी टीम में भी अपनी जगह बना ली।  

हर साल बरोदा के लिए अच्छे प्रदर्शन करने के कारन उनका चुनाव भारत के T -20 टीम में हुआ जो दक्षिण अफ्रीका में विश्व के पहले T -20 वर्ल्ड-कप में खेलने वाली थी युसूफ को पुरे टूर्नामेंट के दरम्यान टीम में खेलने का मौका नहीं मिला लेकिन अंतिम मुकाबले में उन्हें टीम में शामिल किया गया।  पाकिस्तान के साथ हुए इस मुकाबले में Yusuf Pathan ने केवल १५ रन बनाये पर उन्होंने पारी की शुरवात में बड़ी हिम्मत से जो छक्का  मारा वो दर्शको के मन को छु गया।

वर्ल्ड कप के तुरंत बाद 2008 में हुए पहले आईपीएल में युसूफ ने राजस्थान रॉयल्स का प्रतिनिधित्व किया  और अपने आक्रामक शैली से पूरी टूर्नामेंट पर अपनी छाप  छोड़ी।  उनकी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के चलते रॉयल्स ने आईपीएल की टूर्नामेंट जीती और युसूफ फाइनल मैच के मन ऑफ़ डी मैच रहे। आईपीएल के इस बेहतरीन प्रदर्शन से युसूफ को भारत के T-20 और ODI  टीम में जगह मिली।

 world best cricketer Yusuf Pathan Biography in hindi

17 November 2009 को Your 26th birthday पर हुए मुकाबले में युसूफ ने इंग्लैंड के खिलाफ अपना ODI  क्रिकेट का पहला अर्धशतक बनाया। केवल 29 balls में बने इस अर्धशतक ने युसूफ की काबिलियत दुनिया के सामने लायी। फिर 2009 में श्री लंका के खिलाफ युसूफ ने अपने भाई इरफ़ान के साथ कोलोंबो में खेले गये T-२० में भारत को रोमांचक जित दिलाई। युसूफ-इरफ़ान के जोड़ी ने कठिन परिस्तिथि में बल्लेबाजी कर के भारत को जित दिलाई और ये मैच दर्शोकों के लिए बड़ा यादगार साबित हुआ।     

2010 के दुलीप ट्रॉफी के अंतिम मुकाबले में युसूफ ने शानदार बल्लेबाजी करके इतिहास बनाया।  उन्होंने पहले पारी में शतक जड़ा और दूसरी पारी में सिर्फ 190 गेंदों में 210 रनों की तूफानी पारी खेली।  इस पारी के चलते पश्चिम विभाग ने 536 runs का असंभव लगने वाला लक्ष्य हासिल किया। इसके पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में किसी भी टीम ने चौथे पारी में इतना बड़ा लक्ष्य हासिल नहीं किया था।  

इसी साल हुए एक दिवसीय श्रृंख्ला में New zealand  के खिलाफ युसूफ ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का पहला शतक जड़ा और मन ऑफ़ दी  मैच का ख़िताब भी जीता। बेंगलुरु में हुए इस मुकाबले में 316 runs का पीछा करते हुए भारत की स्तिथि एक वक़्त 4 बाद 108 थी।  लेकिन उसके बाद मैदान में उतरे युसूफ पठान ने सिर्फ 96 balls का सामना करते हुए 123 runs की जुझारू पारी खेली और अपने टीम को जित दिलाई।

Yusuf Pathan की जीवनी इन हिंदी

इसके अगले ही एकदिवसीय श्रृंखला में युसूफ ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की सबसे बेहतरीन और उच्तम पारी खेली। दक्षिण अफ्रीका में हुए इस श्रृंखला में पाचवे एकदिवसीय मुकाबले में युसूफ ने  ७० गेंदों में १०५ रन बनाये। हाला की इस शानदार पारी के बाद भी भारत ने मैच हरा लेकिन इस पारी के लिए युसूफ की दुनियाभर में प्रशंसा हुई।  

Yusuf Pathan भारत की 2011 विश्वकप जीतने वाली टीम का हिस्सा थे पर इस टूर्नामेंट में उनका प्रदर्शन इतना खास नहीं रहा।  विश्वकप के बाद युसूफ अपना जलवा नहीं दिखा सकेऔर इसके चलते उनको भारत के ODI और T –२० से निकला गया। March 18, 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला गया मुकाबला युसूफ के ODI करियर का आखरी मुकाबला था।

लेकिन आईपीएल में Yusuf Pathan का बल्ला जोरोसे बोलता रहा।  उन्होंने कोलकाता नाईट राइडर्स का प्रतिनिधित्व करते हुए 2012 and 2014 में आईपीएल टूर्नामेंट जित ली। उन्होंने कोलकाता के तरफ से भी अनगिनत महत्वपूर्ण परिया खेली जिससे कोलकाता को दो बार आईपीएल टूर्नामेंट जितने में सफलता मिली। उसके पहले 2010 में युसूफ ने राजस्थान रॉयल्स का प्रतिनिधित्व करते ही मुंबई इंडियंस के खिलाफ केवल 37 balls में 100 रनो की धुँवाधार पारी खेली।  २०१८ के आईपीएल नीलाम में हैदराबाद के टीम ने युसूफ को 01.9 million की बोली लगाकर ख़रीदा। तो इस साल युसूफ आईपीएल में हैदराबाद का प्रतिनिधित्व करेंगे।

नमस्कार,आप सभी के सहयोग से हमारा यह blog, हिन्दी भाषा Me History Se सम्बंधित जानकारी उपलब्ध करवाने वाला एक popular website बनते जा रहा है. इसी तरह अपना सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here